Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Greetings: Prakash Parv WhatsApp Messages, Images & Text

 "चिड़ियों से मैं बाज लड़ाऊँ तबे गोविन्द सिंह नाम कहाऊं।"

"सवा लाख से एक लड़ाऊँ। तबे गोबिन्द सिंह नाम कहाऊं।"

"यही देहु आज्ञा तुरक को मिटाऊँ। गउघात का पाप जग से हटाऊँ।"

 Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Greetings: Prakash Parv WhatsApp Messages, Images & Text

"हम इह काज जगत मी आए। धरम हेतु गुरुदेव पठाए। जहाँ-तहाँ तुम धर्म बिथारो। दुसटदेखियन पकरि पछारो। यही काज धरा हम जनमम्। समझ लेऊ साधु सब मनमम्। धरम चलावन सन्त उबारन | दुसट सबन को मूल उपारन।"- Happy Guru Gobind Singh Jayanti 2022

Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Greetings: Prakash Parv WhatsApp Messages, Images & Text
Guru Gobind Singh Jayanti png

 गुरु गोबिंद सिंह जयंती Guru Gobind Singh Jayanti हर्ष उल्लास के साथ मनाते है। और Guru Gobind Singh जी को याद करते है। यह एक धार्मिक उत्सव है जिसमें सुख और समृद्धि के लिए गुरुदुवारे पर मन्नते मांगी जाती है।

Guru Gobind Singh Jayanti 2022


Guru Gobind Singh Jayanti 2022 Greetings Prakash Parv WhatsApp Messages, Images & Text:  सिखों के 10 वें गुरू मानेजाने वाले Guru Gobind Singh जी को याद करते हुए सारे सिख समुदाय खूब धूम-धाम से यह जयंती मनाते हैं और इस दिन को प्रकाश पर्व के नाम से भी जाना जाता है.

what is the real meaning of Prakash Parv? ~ प्रकाश पर्व का असल अर्थ क्या है?

प्रकाश पर्व असल में Guru Gobind Singh Jayanti है। प्रकाश पर्व का अर्थ यह है मन की बुराइयों को दूर कर के उसे सत्य, ईमानदारी और सेवाभाव से प्रकाशित करना।  गुरु गोबिंद सिंह महानतम के आलावा महान योद्धा, कवि, भक्त और आध्यात्मिक व्यक्तित्व वाले महापुरुष थे। गुरु गोबिंद सिंह जी कि महानतम घटना माने जाने वालो में से एक खालसा पंथ की स्थापना है। भारत में इस वर्ष Guru Gobind Singh Jayanti 9 January 2022 को मनाया जाएगा। देशभर में गुरुद्वारों को सजाया जाता है. इस दिन सिख लोग अरदास, भजन, कीर्तन करते हैं. साथ ही, गुरुद्वारे में मत्था टेकने जाते हैं. इतना ही नहीं, इस दिन गुरु गोबिंद सिंह के द्वारा बताए गए मार्ग पर चलने का संकल्प लेते हैं. 


Guru Gobind Singh Jayanti - Prakash Parv WhatsApp Messages, Images & Text in English, Hindi and Punjabi


1. When the end of my life comes, then I may die fighting in the battlefield.


• जब मेरे जीवन का अंत आ जाएगा, तो मैं युद्ध के मैदान में लड़ते हुए मर सकता हूं।


• ਜਦੋਂ ਮੇਰੀ ਜ਼ਿੰਦਗੀ ਖਤਮ ਹੋ ਜਾਂਦੀ ਹੈ, ਮੈਂ ਜੰਗ ਦੇ ਮੈਦਾਨ ਵਿੱਚ ਲੜਦਾ ਮਰ ਸਕਦਾ ਹਾਂ।


2. Without the power of devotion they cannot realise the Lord. Though they perform havans, hold Yagyas and offer charities. Without the single-minded absorption in the Lord's name, all the religious rituals are useless.


• भक्ति की शक्ति के बिना वे भगवान को महसूस नहीं कर सकते।  यद्यपि वे हवन करते हैं, यज्ञ करते हैं और दान देते हैं।  भगवान के नाम में एकाग्र मन के बिना, सभी धार्मिक अनुष्ठान बेकार हैं।


• ਭਗਤੀ ਦੀ ਸ਼ਕਤੀ ਤੋਂ ਬਿਨਾਂ ਉਹ ਪ੍ਰਭੂ ਨੂੰ ਅਨੁਭਵ ਨਹੀਂ ਕਰ ਸਕਦੇ।  ਹਾਲਾਂਕਿ ਉਹ ਹਵਨ ਕਰਦੇ ਹਨ, ਯੱਗ ਕਰਦੇ ਹਨ ਅਤੇ ਦਾਨ ਦਿੰਦੇ ਹਨ।  ਪ੍ਰਭੂ ਦੇ ਨਾਮ ਵਿਚ ਇਕ-ਰਸ ਲੀਨ ਹੋਣ ਤੋਂ ਬਿਨਾ ਸਾਰੀਆਂ ਧਾਰਮਿਕ ਰਸਮਾਂ ਵਿਅਰਥ ਹਨ।


3. Do not be rash in striking your sword on helpless, otherwise the providence will shed your blood.


• असहायों पर अपनी तलवार मारने में जल्दबाजी न करें, नहीं तो प्रोविडेंस आपका खून बहाएगा।


• ਬੇਸਹਾਰਾ ਉੱਤੇ ਆਪਣੀ ਤਲਵਾਰ ਮਾਰਨ ਵਿੱਚ ਕਾਹਲੀ ਨਾ ਕਰੋ, ਨਹੀਂ ਤਾਂ ਉਪਦੇਸ਼ ਤੁਹਾਡਾ ਖੂਨ ਵਹਾਏਗਾ।


4. When all other methods fail, it is proper to hold the sword in hand.


• जब अन्य सभी उपाय विफल हो जाते हैं, तो तलवार को हाथ में पकड़ना उचित है।


• ਜਦੋਂ ਹੋਰ ਸਾਰੇ ਤਰੀਕੇ ਅਸਫਲ ਹੋ ਜਾਂਦੇ ਹਨ, ਤਾਂ ਤਲਵਾਰ ਨੂੰ ਹੱਥ ਵਿੱਚ ਫੜਨਾ ਉਚਿਤ ਹੈ।