Search Suggest

इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं: विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका

विश्व क्षय रोग दिवस का मूल मंत्र फेफड़ों के सही सलामती को गंभीर रूप से बुरे करने वाले जीवाणु रोग के बारे में लोगों के बीच में जागरूकता फैलाना है इसीलिए यह दिन को मनाया जाता हे। (World Tuberculosis Day 2022) विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका इस लेख के जरिए बताने की कोशिश की हे।

इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं: विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका


World Tuberculosis Day 2022: इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं। विश्व क्षय रोग दिवस जिसे हम इंग्लिश में कहे तो World Tuberculosis Day यह दिन मनाने का खास कारन विश्व क्षय रोग दिवस का मूल मंत्र फेफड़ों के सही सलामती को गंभीर रूप से बुरे करने वाले जीवाणु रोग के बारे में लोगों के बीच में जागरूकता फैलाना है इसीलिए यह दिन को मनाया जाता हे। (World Tuberculosis Day 2022) विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका इस लेख के जरिए बताने की कोशिश की हे। एक ऐसा दिन आया जब डॉ रॉबर्ट कोच ने टीबी होने वाले जीवाणु की खोज की घोषणा की थी। 1882 में इस खोज की याद में, यह दिन दुनिया भर में मनाया जाता है।

विश्व क्षय रोग दिवस 2022: थीम


"Invest to End TB- SAVE LIFE" टीबी खत्म करने के लिए निवेश करें- जीवन बचाएं यही है इस साल का विश्व क्षय रोग दिवस 2022 का थीम।

विश्व क्षय रोग दिवस 2022 थीम का अर्थ यह है कि ऐसी खतरनाक बीमारी को जड़ से हटाने के लिए निवेश और संसाधनों की आवश्यकता पर केंद्रित है। यह इस बीमारी से लड़ने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को सुदृढ़ करने के लिए वैश्विक नेताओं को इन जरूरतों को बताने का एक तरीका है।  विषय डब्ल्यूएचओ द्वारा सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्राप्त करने के लिए टीबी की रोकथाम और देखभाल तक पहुंच सुनिश्चित करता है।

इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं: विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका



इस धरती पर जीतने भी बीमारियां हे उनमें से दस बीमारियो में से एक क्षय रोग TB (Tuberculosis) है। आप में से अधिकतर लोग जानते हे इस खतरनाक बीमारी के कारन हर साल 15 से लेकर 16 तक लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। एक संक्रामक जीवाणु रोग जो ऊतकों, विशेष रूप से फेफड़ों में नोड्यूल्स (ट्यूबरकल) के विकास की विशेषता है। कभी संभव होता हे की कई बार टीबी का असर गले, ब्रेन, यूट्रस, मुंह, लिवर, किडनी तक भी हो जाता है। जादातर होती है फेफड़े की टीबी। लोगों को इस गंभीर बीमारी से बचाने के लिए हर साल 24 मार्च को विश्व टीबी दिवस (World Tuberculosis Day) मनाया जाता है। 

इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं

इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं: विश्व क्षय रोग दिवस 2022 पर इस दिन को खास तरीके से मनाने का तरीका


1. गाढ़ा पेस्ट बनाएं अदरक ,प्याज ,हल्दी और लहसुन और फेफड़े के ऊपरी हिस्से पर पेस्ट को लगाकर कमरे से बांधकर रखें।

2. आपको हर रोज नियमित रूप से च्यवनप्राश, हल्दी और दूध सेवन करना होगा।  इन आयुर्वेदिक नुस्खे से TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत पा सकते हैं।

3. अगर आप चाहते हैं कि आपके फेफडे सही सलामत रहे तो आपको हर रोज लहसुन, तुलसी, नींबू , अदरक, संतरा, पपीता, तरबूज, पालक, कच्ची हल्दी और गिलोय को सेवन करना होगा।

4. अगर सुबह उठकर खाली पेट में आप संतरा का सेवन करेंगे तो काफी अच्छा रहेगा।

5. अगर आपको TB जेसी खतरनाक बीमारी से राहत चाहते हैं तो लौकी की सब्जी बना कर खाएं, और हो सके तो इसका सूप बना कर पिए।


Disclaimer: यहां दिए गए सभी जानकारियां आयुर्वेदिक नुस्खे के आधार पर लिखी गई है। Blog Online Tech News 2022 इनके सफल होने और इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले डॉक्टरों का सलाह लें।

It's Me �� Pradip Sharma ,,, it was being stuck in a dead-end job working for a micro-managing supervisor. There was an incident at work where my supervisor overstepped his bounds. He did somethi…