-->

World Water Day 2022 Tuesday,22 March: जल है तो कल है.. जल के बिना जीवन है अधूरी आज विश्व जल दिवस, जाने इसका इतिहास और इस बार का थीम | क्या आप जानते हैं 36 लाख जलाशयों में से 5% ही अपने असल स्वरूप में बच्चे हैं? | विश्व जल दिवस क्यों मनाया जाता है? | विश्व जल दिवस 2022 की थीम क्या है? | विश्व जल दिवस पहली बार कब मनाया गया? | हम विश्व जल दिवस कैसे मनाते हैं?

Making The Invisible Visible: World Water Day 2022 जल है तो कल है.. जल के बिना जीवन है अधूरी आज विश्व जल दिवस, विश्व में 1993 मार्च महीने के 22 को विश्व जल दिवस का शुभारंभ हुआ था। 2 मिलियन से अधिक लोग शुद्ध पानी के लिए तरसते हैं इसीलिए वर्ल्ड वाटर डे (world water day) अभियान के जरिए लोगों के मे जागरूकता बढ़ा सके यही WWD का मूल उद्देश्य है।

World Water Day 2022 Tuesday,22 March

World Water Day 2022: विश्व जल दिवस के मौके पर हमने कुछ महत्वपूर्ण बातें इस लेख के जरिए बताइ है वह यह है कि प्रतिवर्ष विश्व जल दिवस 22 मार्च को मनाया जाता है और इस साल World Water Day 2022 Tuesday,22 March को हे। विश्व जल दिवस पानी का जश्न मनाता है और सुरक्षित पानी तक पहुंच के बिना रहने वाले 2.2 बिलियन लोगों के बारे में जागरूकता बढ़ाता है।  पानी बचाने के आपके क्या उपाय हैं?  कुछ उदाहरण देखने के लिए इस धागे का अनुसरण करें कि हम कैसे कार्रवाई कर सकते हैं और अपनी जल आपूर्ति को बचा सकते हैं ️💧 #WorldWaterDay

World Water Day 2022: आज विश्व जल दिवस, जाने इसका इतिहास और इस बार का थीम

जीवन जननी तो बहुत है पर हम या भी मानते हैं जल हमारे जीवन का मूल अहम हिस्सा है, आज के दिनों में औद्योगिकरण आसमान की बुलंदी को छू रही है और इसी दौरान प्राकृतिक स्रोतो को विनम्रता से नष्ट कर रहा है और मानव जीवन को जल की तीव्र कामी जेसी समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। इसीलिए इस बढ़ते खतरे को देखते हुए विश्व भर में वर्ल्ड वाटर डे (World Water Day) मनाया जाता है।

विश्व जल दिवस २०२२ का थीम "Groundwater - Making The Invisible Visible"

भूजल - अदृश्य को दृश्यमान बनाना याही इस साल का थीम हे। अंतर्राष्ट्रीय भूजल अनुसंधान मूल्यांकन केंद्र (International Groundwater Research Assessment Centre) के माध्यम से विश्व जल दिवस २०२२ का थीम प्रस्तावित किया गया है।

Also Read: World Water Day 2022: विश्व जल दिवस के मौके पर लाए अपने घर पर एक्वा फ्रेश ओमेगा जल का शुधिकरण यंत्र

विश्व जल दिवस का इतिहास: दुनिया को स्वच्छ पानी प्रदान करने हेतु और जल को संरक्षण करने के मकसद से संयुक्त राष्ट्रीय अमेरिका ने विश्व जल दिवस मनाने की शुरुआत की थी। रियो डी जनेरियो जो ब्राजील में स्थित है जब 1992 मे यूनाइटेड नेशन सम्मेलन (UNCED)  मैं विश्व जल दिवस मनाने का शुभआरंभ का प्रस्ताव रखा था। ओर 1993 से जल संरक्षण के महत्व को समझने के बारे में सामुदायिक जागरूकता बढ़ाने के लिए एक वार्षिक कार्यक्रम के रूप में जारी रखा। इसीलिए तब से अब तक हर साल मार्च महीने के 22 को विश्व जल दिवस के रूप में मनाते हैं।

World Water Day 2022: क्या आप जानते हैं 36 लाख जलाशयों में से 5% ही अपने असल स्वरूप में बच्चे हैं?

आइए इस (#worldwaterday2022) विश्व जल दिवस पर आज से ही जल बचाने का संकल्प लें और आने वाली पीढ़ी को अच्छे पर्यावरण का उपहार दें। जल को इसके सदुपयोग से बर्बाद होने से बचाएं। देश में 3600000 जलाशयों में से सिर्फ 5% ही पानी अपने असल रूप में है। संभव है अगर हम सभी मिलकर पुनर्जीवित कर दिया तो पूरे देश में 50% से भी अधिक भू जल संकट का समाधान हो सकता है।

World Water Day 2022: विश्व जल दिवस क्यों मनाया जाता है?

करीबन 2 मिलियन से अधिक लोग स्वच्छ जल के लिए तरसते हैं। जल यानी जीवन, जल के बिना इस धरती पर जीवित रहना असंभव है। इसी खतरे को मध्य नजर रखते हुए International Groundwater Research Assessment Centre ने इस बार वर्ल्ड वाटर डे के मौके पर "Groundwater - Making The Invisible Visible" का थिंप्रेस क्या है, इसका अर्थ यह है कि "भूजल - अदृश्य को दृश्यमान बनाना"। धरती पर जीवित रहने के लिए पानी की बहुत ही अहमियत है बिना जल के हम कुछ ही पल जीवित रह सकते हैं इसीलिए जल को संरक्षण करने हेतु और भविष्य में जल को लेकर दिक्कत ना हो इसलिए विश्व जल दिवस मनाया जाता है।

World Water Day 2022: हम विश्व जल दिवस कैसे मनाते हैं?

जल को हम जीवन दाता भी कह सकते हैं, क्योंकि जल के बिना मनुष्य जाति का कामना कर नही सकते हैं। हम विश्व जल दिवस को बहुत ही धूमधाम से मना सकते हैं और इसके बारे में जागरूकता फैलाकर जल को संरक्षण कर सकते हैं आइए कुछ सबक हम सीखे इस विश्व जल दिवस पर।

1. जल के स्वच्छ और स्वच्छता के बारे में पाठ सिखाएं।
2. जल को बहुत ही महत्वपूर्ण दे, क्योंकि जल ही जीवन है।
3. जल अभियान बनाए।
4. जल के महत्वपूर्ण संरक्षण पर जागरूकता फैलाएं।
5. जल जीवन जननी है इस धरती का।