-->

Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का

"अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का" - Mohd Safiq


Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का


Aksar rabb se bhi shikayatein rahti hai hamari Kabhi kharab taqdeer ka,kabhi kharab tasveer ka

                                      - Mohd Safiq


"उनसे गुफ्तगु ना मिले तो फिर क्या मिले हम जहां मिले, वही से गिले सारे सिखवे मिले "- Mohd Safiq


Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का


Unse Guftagu na mile toh fir kya mile Hum jahaa mile, wohi se gile sare sikhwe mile

                                      - Mohd Safiq


मोहब्बत सेहरी पे पिये गए पानी की आखिरी घोंट की तरह होनी चाहिए के जिसके पीने के बाद दुसरे की गुंजयिश ना हो। - Mohd Safiq


Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का


Mohabbat SEHRI pe piye gaye PAANI ki aakhri ghoont ki Tarah Honi Cahiye Ke jiske PEENE Ke baad DUSRE ki gunjayish na ho.

                                     - Mohd Safiq


मोहाबत कभी खतम नही होती , यहां जिंदगी या तो सवार जाति हे,, या तो यादों पे गुजर जाती हे। - Mohd Safiq


Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का


Mohabbat Kabhi Khatam Nahi Hoti Yaha zindagii Yah Toh Sawar jati he yah yaadon pe Gujar jati he

                                            - Mohd Safiq


खामोशी से मतलब नहीं जनाब मतलब बातों से है, दिन तो यूही गुजर जाएंगे मसाला हमें रातों से है - Mohd Safiq


Best Quotes By Mohd Safiq On Instagram - अक्सर रब्ब से भी शिकायते रहती है हमारी कभी खराब तकदीर का, कभी खराब तस्वीर का


Khamoshi se matlab nahi janab matlab baaton se hai Din toh yuhi guzar jaenge maslaa hume raaton se hai

                                         - Mohd Safiq


* तुम आदत बनो हमारी हम बड़े जाएंगे, इस भजन शखों को दिल से लगाओ तो सही हम धड़क जाएंगे

 - Mohd Safiq


* Tum adat bano hamari Hum bigad jayenge, Is be jaan Shakhss ko dil se lagao toh sahi Hum Dhadak Jayenge


- Mohd Safiq


* दिल जिसे चाहता है वो हर मर्ज का इलाज होता है - Mohd Safiq


* dil jise chahta hai wo har marz ka ilaaj hota hai

                                         - Mohd Safiq


बोहत मुश्किल है ये बंदिश मोहब्बत की ना उसने क़ैद में रखा न हम फरार हुए - Mohd Safiq


* Boht mushkil he yeh bandishen mohabbat ki Na usne qiad me rakha na hum Faraar hue

                                        - Mohd Safiq


हम मुसाफिर है दुनिया के,, वक्त तो खुदा ने नवाजा है जनाब - Mohd Safiq



* Hum musafir he Is Duniya ke Waqt khuda ne nawaza he

                                   - Mohd Safiq